मुकेश अंबानी के एंटीलिया को टक्कर देने तैयार हो रहा है ये मंदिर, 700 Ft होगी हाइट

अंबानी के एंटीलिया को टक्कर देने तैयार हो रहा है ये मंदिर, 700 Ft होगी हाइट

देश के सबसे बड़े बिज़नेसमेन मुकेश अंबानी ने अपने घर एंटीलिया में बेटे आकाश अंबानी की प्री-इंगेजमेंट पार्टी दी है, गोवा में हुई सगाई के बाद अंबानी परिवार ने अपने घर एंटिलिया में एक शानदार पार्टी रखी थी । मुकेश अंबानी का बेटा आकाश अम्बानी, श्लोका मेहता नाम की लड़की से शादी कर रहे हैं । पार्टी में बॉलीवुड से लेकर बिजनेसवर्ल्ड और क्रिकेट के सेलेब्स ने शिरकत ली है । एंटीलिया से 14 हजार किमी दूर वृंदावन में वर्ल्ड का सबसे ऊंचा मंदिर बन रहा है। यह मंदिर मुकेश अंबानी के एंटीलिया को हाइट में टक्कर देने की तैयारी कर रहा है।

चंद्रोदय को वर्ल्ड का सबसे ऊंचा मंदिर बनाने की तैयारी में जुटे आयोजक चंदा इकट्ठा करने में लगे हुए हैं। इस मंदिर की वेबसाइट के मुताबिक मंदिर श्रद्धालुओं से सीमेंट, बजरी से लेकर स्टील तक की स्पॉन्सरशिप डोनेट करने की अपील कर रहे है। इस का इस्कॉन फाउंडेशन इस मंदिर का निर्माण करवा रहा है | उनका दावा है कि चंद्रोदय मंदिर 700 फीट ऊंचा होगा और मुकेश अंबानी के बंगले एंटीलिया से भी ऊंचा है। यही नहीं, कि इसकी नींव कुतुब मीनार की लंबाई से भी गहरी की गई है।

और यह 70 मंजिला का मंदिर होगा

यह मंदिर सहिष्‍णुता, आधुनिकता, धार्मिक सद्भाव,  इतिहास, कला और संस्‍कृति को समेटता है। चंद्रोदय मंदिर मुकेश अंबानी के बंगले एंटीलिया से भी ऊंचा और सुविधाओं वाला बन रहा है।
जबकि यह मंदिर अभी अंडर-कंस्ट्रक्शन ही है, लेकिन होली पर हर साल यहां पर सत्‍संग होते रहते  है। और चंद्रोदय मंदिर के प्रोजेक्‍ट डायरेक्‍टर सुबयक्‍ता नरसिंम्‍हा दास ने इस मंदिर से जुड़े रोचक फैक्‍ट्स शेयर किये है |

मंदिर की ऊंचाई 210 मीटर (70 मंजिल) होगी। जबकि मुकेश अंबानी का एंटीलिया 27 मंजिल का है।
चंद्रोदय मंदिर परिसर में 50 एकड़ जमीन पर कई हेलीपैड भी बनेंगे। (मुकेश अंबानी के बंगले एटीलिया में तीन हेलीपैड भी हैं)

एक समय में मंदिर परिसर में बैठने की व्यवस्था पांच लाख लोगों की होगी |

यह है मंदिर की खासियतें

पूरी की पूरी बिल्डिंग में 511 पिलर होंगे। इन पर पूरी बिल्डिंग का वजन 5 लाख टन होगा। जबकि ये पिलर नौ लाख टन वजन सह सकते है।

सबसे टॉप फ्लोर पर व्‍यूइंग गैलरी भी होगी, यहां पर एक टेलिस्‍कोप लगा होगा,  इससे जन्म-स्थान, गोवर्धन पर्वत आदि ब्रज के धार्मिक स्‍थल भी देख सकेंगे।

यह  निर्माण कार्य में सभी धर्म के लोगों की बराबर भागिदारी है। इसके लीड आर्किटेक्‍ट सिख धर्म से जुड़े हुए जे जे सिंह हैं। जबकि अमेरिकन कंपनी के स्‍ट्रक्‍चलर आर्किटेक्‍ट मुस्लिम हैं। और लिफ्ट डिजाइन करने वाले ईसाई हैं।

और 200 साल में पहली बार मंदिर का आर्किटेक बदला हुआ दिखेगा। इतनी अवधि में अभी तक मंदिर आधुनिक तरीके से नहीं तैयार हुआ है।

इस चंद्रोदय मंदिर  पर 700 करोड़ से ज्‍यादा होंगे खर्च

इस चंद्रोदय मंदिर के मुख्‍य भवन के निर्माण में पांच सौ करोड़ रुपए खर्च होंगे और 150 करोड़ रुपए के अंडरग्राउंड पार्किंग भी बनेंगे।इसकी सड़क निर्माण में 50 करोड़ रुपए खर्च होंगे ।

About Social Sach

Get What's Happening Around You That is important for you to know as well. Get Trending and viral news from social media channels.

View all posts by Social Sach →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *