जानिए पद्मावत को रिलीज़ करने वाले पाकिस्तान ने किन फिल्मो को और क्यों बैन किया

0
256

जहा पद्मावत के रिलीज़ को लेकर पुरे भारत में बवाल मचा हुआ है वही इस खबर ने सबको अचरज में डाला हुआ है की पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड ने पद्मावत को पाकिस्तान में रिलीज़ करने का एलान किया है | वैसे तो हमारे पडोसी ने हमेशा ही हमारे उल्टा चलने को सही माना है तो आइये आपको बताते है वो फिल्मे जो भारत में आसानी से रिलीज़ हुई लेकिन जिनको पाकिस्तान में रिलीज़ करने पर बैन लग गया और वो भी कुछ बेतुकी वजहों से | जाने क्या है वो वजहे जिनसे इन फिल्मो को पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड ने रिलीज़ करने लायक नहीं समझा |

  1. एक था टाइगर

इस फिल्म पर बैन लगाने की असली वजह पाकिस्तानी सिक्युरिटी एजेंसी और इंडिया के बीच विवाद जिसके चलते पाकिस्तान सरकार ने इस फिल्म पर बैन लगा दिया था। इसके अलावा फिल्म में कुछ न कुछ ऐसा और भी था, जो पाकिस्तान के नेशनल इंटरेस्ट के अगेंस्ट था।

EK Tha Tiger
Source: Bhaskar.com

2. जब तक है जान

दरअसल इस फिल्म में शाहरुख खान कश्मीर में इंडियन आर्मी के बम डिस्पोजल दस्ते के मेंबर होते हैं। इस वजह से पाकिस्तान ने इसे बैन किया था। हालांकि बाद में कराची में हुए प्रीमियर में फिल्म का वेलकम किया गया था।

Jab Tak Hai Jaan
Source:Bhaskar.com

3. चेन्नई एक्सप्रेस

शाहरुख की इस फिल्म को हालांकि पाकिस्तान में परमानेंट बैन नहीं किया गया था क्योकि पाकिस्तानी डिस्ट्रीब्यूटर्स नहीं चाहते थे कि ईद पर कोई इंडियन फिल्म उनके वहा रिलीज हो क्योंकि पाकिस्तान में पहले से ही ईद पर चार फिल्में रिलीज होने जा रही थी और अगर चेन्नई एक्सप्रेस भी रिलीज़ हो जाती तो पाकिस्तानी फिल्मो के कुल कारोबार पर असर पड़ना तय था जिससे डिस्ट्रीब्यूटर्स का मुनाफा भी कम होता |

Chennai Express
Source: Bhaskar.com

4. द डर्टी पिक्चर

सिल्क स्मिता के जीवन पर आधारित इस पिक्चर को इसके बोल्ड सीन्स और डायलॉग्स की वजह से पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड ने बैन कर दिया था |

Dirty Picture
Source: Bhaskar.com

5. एजेंट विनोद

एजेंट विनोद को इसकी पाकिस्तान में रिलीज के कुछ दिनों पहले ही बैन किया गया था। इस फिल्म में सैफ अली खान इंडियन इंटेलीजेंस रॉ में होते हैं। पाकिस्तान को फिल्म के साथ मेजर इश्यू ये था कि इसमें सीनियर पाकिस्तानी ऑफिसर्स को अफगानिस्तान में तालिबान का सपोर्ट करते हुए दिखाया गया है जिसके कारण फिल्म को बैन होना पड़ा |

Agent Vinod
Source: Bhaskar.com

6. खिलाडी 786

अक्षय कुमार की इस फिल्म खिलाडी 786 को पाकिस्तान के सेंसर बोर्ड ने इसलिए पास नहीं किया क्योकि इसमें शामिल 786 मुस्लिम्स में एक पवित्र अंक माना जाता है और इसलिए किसी की भावनाए इससे आहत ना हो इसलिए पाकिस्तान में इसे रिलीज़ ना करने का फैसला लिया गया |

Khiladi 786
Source: Bhaskar.com

7. तेरे बिन लादेन

इस फिल्म में ओसामा बिन लादेन को कॉमिक कैरेक्टर में दिखाया गया है बस यही बात पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड को पसंद नहीं आई और इसी के चलते इस फिल्म को पाकिस्तान में बैन कर दिया गया ।

Tere Bin Laden
Source: Bhaskar.com

8. भाग मिल्खा भाग

ये फिल्म इंडियन सपोर्ट एथलीट मिल्खा सिंह के जीवन पर आधारित थी जिन्हें पाकिस्तान ने फ्लाइंग सिख की उपाधि से नवाजा था पर फिल्म में भारत पाकिस्तान के बंटवारे के दौरान मिल्खा सिंह के फॅमिली मेम्बेर्स की पाकिस्तान में हत्या कर दी जाती है और इन सब हिंसक दृश्यों से पाकिस्तान में सिख और मुस्लिम दंगे भड़क सकते थे इसलिए फिल्म पर बैन लगा दिया गया था हालाँकि इस फिल्म पर से बाद में बैन हटा दिया गया था |

Bhag Milkha Bhag
Source: Bhaskar.com

9. डेविड

दरअसल यह फिल्म पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड को लगा की यह फिल्म पाकिस्तानी दर्शको के लिए ठीक नहीं है और ये फिल्म बोर्ड के बनाये बेसिक क्राइटेरिया पर खरी नहीं उतर सकी जिसके चलते इसे भी बैन कर दिया गया |

David
Source:Bhaskar.com

10. लाहौर

यह फिल्म भारत और पकिस्तान के हालातो को बयां करने वाली कहानी थी पर पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड को इसके कुछ सीन्स और डायलॉग्स आपत्तिजनक लगे और उसने फिल्म को बैन कर दिया |

Lahore
Source: Bhaskar.com

11. टाइगर जिंदा है

पाकिस्तान द्वारा बैन की गयी फिल्मो में अभी ताज़ा ताज़ा एक और नाम जुड़ गया है और वो नाम है सलमान खान कटरीना कैफ स्टारर “टाइगर जिंदा है” जो की पूर्व में आई “एक था टाइगर” का सीक्वल है | पाकिस्तान को इस फिल्म में दिखाई गये सीन्स से आपत्ति है और इसलिए पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट देने से मना कर दिया |

तो ये थी वो फिल्मे, जिन्हें पाकिस्तानी सेंसर बोर्ड ने अपने हिसाब से बेन कर दिया | आपको क्या लगता है क्या इन फिल्मो पर पाकिस्तान में लगाया गया बैन सही था या फिर पडोसी देश हमारी फिल्मो से घबरा गया था जिसके कारण बैन का फैसला लेना पड़ा |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here