वांडरर्स की “डेंजरस” पिच पर भारतीय गेंदबाजो ने साउथ अफ्रीका की सांसे उखाड़ी भारत 63 रन से जीता

0
322
cricket-stadium-johannesburg-africa-africa-third-wanderers

टीम इंडिया ने साउथ अफ्रीका को साउथ अफ्रीका के दौरे पर चल रही फ्रीडम सीरीज के तीसरे और आखिरी टेस्ट में 63 रनों से हरा दिया और जोहान्सबर्ग टेस्ट के वांडरर्स के मैदान पर अपना कभी ना हारने का रिकॉर्ड कायम रखा | टीम इंडिया ने उस पिच पर दूसरी पारी में 247 रन बनाये जिस पिच को कई क्रिकेट के दिग्गजों ने टेस्ट क्रिकेट के लिए बहुत ही ख़राब बताया था | इस टेस्ट के पहले दिन से इस पिच पर गेंदबाजो का बोलबाला रहा था कभी गेंद नीचे रह रही थी और कभी बाउंस ले रही थी |cricket-south-africa-d3-india-3rd-test

इस पिच का रंग तो पहले दिन ही दिख गया था जब साउथ अफ्रीका के गेंदबाजो ने भारतीय बल्लेबाजी क्रम को तहस नहस करते हुए 187 रन पर आल आउट कर दिया था पर भारतीय गेंदबाजो ने भी जवाबी हमला बोलते हुए पूरी अफ्रीकन टीम को पानी पिला दिया और उन्हें 197 रन पर आल आउट कर दिया |जसप्रीत बुमराह ने अफ्रीकन बल्लेबाजो को लगभग गुमराह करते हुए अपने तीसरे ही टेस्ट में पहली बार पांच विकेट लेने का कारनामा किया | साउथ अफ्रीका की टीम को भारत पर केवल 7 रनों की मामूली लीड मिली |india-v-south-africa-third-test-match

भारत जब दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरा तो भारतीय बल्लेबाजो ने अफ्रीकन गेंदबाजो द्वारा अपनी तेज गेंदों से किये गए प्रहार को अपने शरीर पर झेला पर क्रीज़ पर टिकने का संकल्प दिखाया और इस तरह से विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे और भुवनेश्वर कुमार की बेहतरीन पारियों के दम पर 247 रन का स्कोर खड़ा किया और अफ्रीका की टीम को 241 रन का टारगेट दिया |

mohammed-shami-bcci

जवाब में उतरी अफ्रीकन टीम को स्कोर कितना बड़ा है और ये कितना भारी पड़ सकता है ये चोथी पारी के दुसरे ओवर में ही पता चल गया जब मोहम्मद शमी के गेंद पर एडम मर्करम विकेट के पीछे लपक लिए गए | इस समय तक जोहानिसबर्ग की पिच ने आखिरकार वही रंग दिखाया जिसको बल्लेबाज पहले दिन से झेल रहे थे | एक समय जब हाशिम अमला और डीन एल्गार बेटिंग कर रहे थे तब कुछ देर के लिए पिच का मिजाज ऐसा था जैसे ज्वालामुखी सो गया हो |ajinkya-rahane-and-kohli

पर जैसे ही हाशिम अमला का विकेट १२४ रन के स्कोर पर इशांत शर्मा के गेंद पर गिरा अफ्रीकन बल्लेबाजो ने जैसे हथियार डाल दिए और इसके बाद एबी डीविलिअर्स, फाफ डूप्लेसिस, क्विंटन डी कोक, फिलेंडर, फेह्लुक्वायो, रबाडा, लुंगी एन्गिड़ी और मोर्ने मोर्केल जैसे बल्लेबाज मात्र 53 रन जोड़कर पूरी टीम आउट हो गयी | दूसरी पारी में अफ्रीकन बल्लेबाज 177 रन ही बना सके और दूसरी पारी में भारत की और से मोहम्मद शमी ने पांच विकेट लेने का कारनामा किया | इसी के साथ भारत ने तीसरे टेस्ट में अफ्रीका को 63 रन से हरा दिया |

हालाँकि अफ्रीका ने ये फ्रीडम सीरीज पहले ही दूसरा टेस्ट मैच जीतकर अपने नाम कर ली थी पर फिर भी भारत ने ये मैच जीतकर सीरीज 2-1 से गंवाई जो की 3-0 भी हो सकता था इसलिए सही मायनो में ये जीत उस पिच पर बड़ी मानी जा सकती है जहा खुद अफ्रीकन बल्लेबाज खेलने से डर रहे थे | इस सीरीज में एक खास बात ये भी रही की तीन टेस्ट मैचो की इस सीरीज में भारतीय गेंदबाजो ने शानदार प्रदर्शन करते हुए सभी 60 अफ्रीकन विकेट अपने नाम किये मतलब पूरी अफ्रीकन टीम को हर पारी में आल आउट किया  |

आगे भारत को एक दिवसीय सीरीज खेलनी है और उम्मीद करते है की भारतीय टीम ने इस साउथ अफ्रीकन टूर पर पहली जीत का जो स्वाद चखा है वो आगे भी ऐसे ही बरक़रार रहे और टीम इंडिया वनडे सीरीज अपने नाम करे |

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here