एयरटेल चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने यूनिवर्सिटी बनाने के लिये 7000 करोड़ रुपए दान दिए

0
428
sunil Bharti Mittal donate 7000 crores

लगता है देश के धनकुबेर अब परोपकार की बारे में भी सोचने लगे है अभी पिछले दिनों ही इंफ़ोसिस के को-फाउंडर नंदन नीलकेणी और उनकी पत्नी रोहिणी नीलकेणी ने अपनी आधी संपत्ति वौरेन बफेट और बिल गेट्स द्वारा शुरू की गयी पहल “गिविंग प्लेज” पर दस्तखत करते हुए दान कर दी थी | आज देश की सबसे बड़ी टेलिकॉम कंपनी एयरटेल के चेयरमैन सुनील भारती मित्तल ने यह कहते हुए तहलका मचा दिया की वो परोपकार के कामो के लिए 7000 करोड़ रुपये दान करेंगे |nandan neelkeni with wife rohini neelkeni

एयरटेल कंपनी के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार भारती फॅमिली अपनी पूरी संपत्ति में से 10 चैरिटी के लिए डोनेट करेंगे. इस रकम से चैरिटेबल ट्रस्ट भारती फाउंडेशन की एक्टिविटीज को सुचारू रूप से चलाने में मदद की जाएगी. आपको बता दे की भारती फाउंडेशन सत्य भारती यूनिवर्सिटी फॉर टेक्नोलॉजीएंड साइंस खोलेगी जिसमे गरीब स्टूडेंट्स को फ्री एजुकेशन दी जाएगी |

हम यहाँ बिज़नस के लिए नहीं : सुनील भारती मित्तल

हालाँकि सुनील भारती मित्तल ने परोपकार के लिए दान की गयी इस राशी से यूनिवर्सिटी खोलने का एलान करते हुए साफ किया की वह इस काम में बिज़नेस के लिए नहीं आये है | टेक्नोलॉजी से हमारा जुडाव है इसलिए हम टेक्नोलॉजी से जुड़े क्षेत्रो में ही फोकस करना चाहते है | यह यूनिवर्सिटी विश्वस्तरीय होगी और इसमें मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, स्टैनफोर्ड और बार्कले की तर्ज पर छात्रों को तकनीकी शिक्षा दी जाएगी.

यह यूनिवर्सिटी 100 एकड़ में बनेगी और इसकी लोकेशन के लिए अभी पंजाब और हरियाणा में बातचीत जारी है जो की जल्दी पक्का होने की उम्मीद है | 2021 तक इस यूनिवर्सिटी का पहला सेशन शुरू हो सकता है |

भारती फाउंडेशन द्वारा संचालित यूनिवर्सिटी में 10000 स्टूडेंट्स साथ पढ़ सकेंगे |

भारती फाउंडेशन द्वारा संचालित की जाने वाली इस सत्य भारतीय यूनिवर्सिटी में एडवांस टेक्नोलॉजी पर फोकस किया जाएगा और साथ ही साथ इसमें आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, रोबोटिक्स, ऑगमेंटेड रियल्टी और वर्चुअल रियल्टी की एजुकेशन छात्रों को दी जाएगी। इसके अलावा इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग और मैनेजमेंट की भी डिग्री कोर्सेज भी यूनिवर्सिटी प्रदान करेगी |Bharti Foundation Will Run Satya Bharti University

भारती फाउंडेशन विश्व की जानी मानी कंपनियों जैसे की फेसबुक, माइक्रोसॉफ्ट, गूगल और एप्पल को भी यूनिवर्सिटी से जोड़ने का विचार कर रही है। यह यूनिवर्सिटी पूरी तरह से रेजिडेंशियल होगी और इसमें एक साथ 10 हजार स्टूडेंट पढ़ाई कर सकेंगे। इस यूनिवर्सिटी को बनाने में तक़रीबन 1000 करोड़ रुपए शुरुआत में लगेंगे और इसे सुचारू रूप से चलाने के लिए और ज्यादा रकम लगेगा।

सुनील भारती मित्तल ने भारती फाउंडेशन द्वारा संचालित सत्य भारती स्कूल प्रोग्राम्स में जीरो फीस का हवाला देते हुए कहा की हम किसी भी चीज का पैसा नहीं लेंगे और यूनिवर्सिटी में जरूरतमंद और गरीब होनहार बच्चों को फ्री एजुकेशन देने में भी बहुत सारे पैसे की जरूरत होगी।”

सुनील भारती मित्तल का यह कदम सराहनीय है और इससे भारत में एजुकेशन का स्तर सुधरने की उम्मीद है और आशा है की शिक्षा और प्रासंगिक होगी |

दोस्तों उमीद करते है आपको यह खबर अच्छी लगी होगी आपके विचार कमेंट बॉक्स में जरुर दे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here