गुजरात का एक ऐसा गांव जहां हर कुत्ता है करोड़पति

0
356

आज के दौर में हर इंसान सुबह उठने से ले कर रात को सोने तक पैसो के पीछे भागता है। पैसो के बिना जीवन मुश्किल होता है, पैसो के खातिर इंसान ही इंसान की जान ले लेता है। इसी बीच आज हम बात करने जा रहे है गुजरात के एक ऐसे गांव की जहा का हर एक कुत्ता करोड़पति है। यह बात आपको सुनने में बहुत अजीब लग रही होगी लेकिन यह सच्चाई है। जी हाँ, यह गुजरात के मेहसाणा जिले पंचोत गांव की है। पंचोत गांव में मढ़ नी पती कुतरिया ट्रस्ट’ है जिसमे 21 बीघा जमीन है, बाइपास स्थित इस जमीन की कीमत 3.4 करोड़ प्रति बीघा है। हालाँकि ये जमीन कुत्तो के नाम पर नहीं है लेकिन इससे होने वाली इनकम का हिस्सा कुत्तो के लिए रखा जाता है।

गुजरात का एक गांव, जहां का हर कुत्ता है करोड़पति

ट्रस्ट के पास करीब 70 कुत्ते हैं। ट्रस्ट के अध्यक्ष छगनभाई पटेल के अनुसार कुत्तो के लिए अलग हिस्सा रखना पुरानी परम्परा है। मढ़ नी पती कुतरिया ट्रस्ट की शुरुआत अमीरो के द्वारा जमीन के टुकड़े दान करने से शुरू हुयी है। तब जमीन की कीमत इतनी नहीं हुआ करती थी , कई बार टैक्स नहीं चूका पाने की स्थिति में जमीन दान में दे दी जाती थी।
70 साल पहले यह जमीन ट्रस्ट के पास आयी थी। गांव के विकास और मेहसाना बाइपास के कारण जमीन के दाम बढ़ने शरू हो गए।

गुजरात का एक गांव, जहां का हर कुत्ता है करोड़पति हर साल ट्रस्ट फसल बुवाई से पहले एक प्लॉट की हर साल नीलामी करता है। जो सबसे ज्यादा बोली लगता है ट्रस्ट उसको वो जमीन एक साल तक फसल बोने के लिए देता है, इसके लिए ट्रस्ट लगभग 1 लाख रूपये लेता है। जिसे कुत्तो की सेवा में खर्च किया जाता है। हालाँकि ट्रस्ट हर जानवर और पक्षी का ख्याल रखते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here